ज़िन्दगी को जाते जाते , जाने देता गया…………!

हम तो  आज मर से गए होते ,
आप हमारी मज़ार पे ,
आयतें पढ़ रहे होते ….
“लखनऊ ” /Pan India  में बैठ कर ,
हम दिल्ली वालों को याद फरमा रहे होते !
शायद , गुज़रे कल को सहला रहे होते ….
जानेमन आप हमें miss किये जा  रहे होते
Earth quake tremor feel किये गए।
जनाब , हमनें समझा infrastructural issue हैं,
दरवाज़े , खिड़कियां हिल रहे हैं !
कुर्ते के sleeve चढ़ा लिए !
हम , तो हम हैं , vendors के पते अते recall
पे लगा लिए।
हमें होश तब आया ,
जब fact पर हमनें गौर फ़रमाया।
आस पास लोगों ने panic button दबाया ,
कोई जल्दी नहीं थी मुझे ,
हड़बड़ाहट , नहीं थी,
नफरत नहीं , मोहब्बत नहीं।
चाह नहीं , आह नहीं।
आँख भरी सी थी ,
बात अनकही सी थी ,
याद यही था , आँख भरी सी थी।
…………… distract सी हो रही हूँ
रहमान गा  रहे हैं, मैं लिखे जा रही हूँ.…………………………।
तो , मैंने देखा हमें संरक्षण प्राप्त था ,
Z Security थी , concern था ,
खैर , गौर फरमायें , हम नीचे पहुंचे ,
लोग खुले में पहुंचे , हम chai पे रुके ,
सटीक कांच के ढाँचे के नीचे।
आंसू थे , दुआ थी ,
खुदा हाफिज था ,
कश्मकश के कश थे ,
आँख खुली थी,
ओठ बंद थे।
I had no fears today ,
I have met something , someone unsaid today.
खैर , मिश्रा जी को खिंचा मज़ाक में ,
‘तुम तो भाग खड़े हुए ?’
खैर , कुछ जाना खुद को,
सब भूल सा गया।
कुछ पल का वो सबब ,
पीछे रह सा गया।
और मैं देखता रह गया ,
ज़िन्दगी को जाते जाते ,
जाने देता गया…………………………………………।
Advertisements

About Sumita Jetley

I had never thought that writing takes such a heart in me. I never had thought that I and it would be in each other but suddenly I as well know, life is never without it be, expressed and relished in its foremost quiet beauty.
This entry was posted in Uncategorized. Bookmark the permalink.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s